इलेक्ट्रिक वाहन बिक्री 2020 तक दहाई अंक में रहने की उम्मीद: रिपोर्ट

नयी दिल्ली, 11 फरवरी : देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री 2020 तक दहाई अंक में रहने की उम्मीद है। सरकार द्वारा क्षेत्र के लिए उठाये गये कदमों और बैटरी के दाम में कटौती समेत अन्य उपायों से बिक्री में तेजी रहेगी। एसोचैम और परामर्श संबंधी सेवाएं देने वाली फर्म ईवाई ने कहा कि इलेक्ट्रिक से चलने वाले वाहन अभी तक मुख्यधारा में नहीं है। लेकिन सरकार द्वारा क्षेत्र को बढ़ावा देने और उपभोक्ताओं में जागरुकता बढ़ने से देश में ई-वाहन अपनाने की गति में तेजी आयेगी। वर्तमान में देश में इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग शुरुआती चरण में है और कुल वाहन बिक्री में उसकी हिस्सेदारी एक प्रतिशत से भी कम है। तेजी गति से चार्जिंग ढांचा विकसित करने की जरुरत पर बल देते हुए रिपोर्ट में कहा गया है कि ई-वाहन की वृद्धि के लिये यह निर्णायक कारक है। ई-वाहन नीति में स्पष्टता के संबंध में रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार को नियामकीय चुनौतियों को सुदृढ़ बनाने और नीतिगत प्रोत्साहन देने के सक्रिय उपाय करने की जरुरत है। सरकार ने 2030 तक सार्वजनिक परिवहन में 100 प्रतिशत इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल और निजी वाहनों के क्षेत्र में 40 प्रतिशत इलेक्ट्रिक वाहन चलाने का लक्ष्य रखा है। वहीं, ई-वाहन बनाने वाली कंपनी ओकिनावा आटोटेक ने चालू वित्त वर्ष में देश में 10,000 इलेक्ट्रिक स्कूटर बिक्री का लक्ष्य रखा है। देश में पहली और दूसरी श्रेणी के शहरों से मजबूत मांग को देखते हुये कंपनी ने यह लक्ष्य रखा है। ई-स्कूटर के दो मॉडल प्रेज और रिज है। कंपनी की योजना अगले तीन साल में अपनी खुदरा उपस्थिति में इजाफा करने की है।
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com