ईरान में हिंसक प्रदर्शन, पांच सुरक्षाकर्मियों की मौत

लंदन 20 फरवरी : ईरान की राजधानी तेहरान में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा में सुरक्षा बलों के पांच जवानों की मौत हो गई है। इस सिलसिले में पुलिस ने तीन सौ लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि सरकार द्वारा सूफी मतावलंबियों की कथित प्रताड़ना के विरोध में गोनाबाड़ी दरवेश कल रात सड़कों पर उतरे और अपने सदस्यों की रिहाई की मांग को लेकर थाने के पास जमा हो गए। इस दौरान प्रदर्शनकारियों तथा पुलिसकर्मियों के बीच झड़प हो गई। अमेरिका के न्यूयार्क स्थित ईरानी मानवाधिकार केंद्र के अनुसार ईरान में गत दो महीने में कई दरवेशों को गिरफ्तार किया था। इनमें से दस लोग 14 जनवरी को सूफी अनुयायियों की रिहाई की मांग को लेकर रैली कर रहे लोगों पर पुलिस कार्रवाई में घायल हो गये थे। पुलिस ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने एक बस से तीन पुलिसकर्मियों को रौंद दिया जिसके कारण उनकी मौत हो गई तथा उन लोगों ने एक सुरक्षाकर्मी को कार से कुचल कर तथा एक अन्य की चाकू मार कर हत्या कर दी। पुलिस प्रवक्ता मोंतजर-अल-मेहदी ने बताया कि हिंसा के सिलसिले में दो चालकों सहित तीन सौ से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस दौरान लगभग 30 पुलिस अधिकारी तथा कुछ प्रदर्शनकारी जख्मी हुए हैं। उधर, गोनाबाड़ी सूफी मतावलंबियों ने मज्जूबन वेबसाइट पर बताया है कि पुलिसकर्मियों ने कुछ प्रदर्शनकारियों को गोली मार दी। गौरतलब है कि सूफीवाद इस्लाम धर्म का सबसे शांतिपूर्ण पंथ है। ईरानी सरकार द्वारा लगातार दबाव डाले जाने के बावजूद इस समूह के मतावलंबियों का सशस्त्र संघर्ष का इतिहास नहीं है।
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com