घर में जीरा और गुड़ है तो जान लें ये फायदे, फेंक देंगे दवाएं

अहमदाबाद 6 मई 2018 (अशोका न्यूज़ )आमतौर पर गुड़ और जीरे का उपयोग सभी घरों में होता है। जीरा खाने में प्रयोग किए जाने वाले मसालों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसका प्रयोग खाने को स्वादिष्ट एवं सुगंधयुक्त बनाने के लिए किया जाता है। बिना जीरे के तड़के के दाल, सब्जी और रायते का स्वाद फीका-फीका सा लगता है। वहीं, स्वाद के साथ-साथ जीरा हमारे स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक होता है। गुड़ की मिठास से मीठे पकवानों का जायका बढ़ता है और यह भी तमाम तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसके साथ इनका सेवन करना स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए भी लाभदायक होता है।

आयुर्वेदाचार्य डॉ. एम. मुफीक के मुताबिक, गुड़ और जीरे का पानी पीने से सिरदर्द से काफी आराम मिलता है। सिरदर्द के अलावा इसका पानी पीना बुखार में भी लाभदायक होता है। इसके सेवन से हमारे शरीर से विषैले तत्व दूर होते हैं, जिससे हमारा प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होता है। इससे हमारे शरीर को बीमारियों से लड़ने में सहायता मिलती है। जीरा और गुड़ दोनों ही पेट संबंधी परेशानियों के लिए उत्तम माने जाते हैं। इन दोनों का अलग-अलग सेवन करने से भी गैस, कब्ज, पेट दर्द एवं पेट फूलना आदि समस्याओं से निजात मिलती है।

जीरे और गुड़ का यह मिश्रण नेचुरल बॉडी डिटॉक्स (शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालना) के रूप में कार्य करता है, जिससे आपका पूरा शरीर स्वस्थ और स्वच्छ रहता है। जीरे और गुड़ दोनों में ही लौह तत्व की अधिकता होती है। साथ ही इनमें खनिज एवं पोषक तत्व भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते है, जो हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को स्वस्थ रखने और उनके निर्माण में सहायक होते हैं। इनका घोल रोजाना पीने से रक्त में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है और अल्परक्तता से बचाव होता है। ये हमारे रक्त में मौजूद अशुद्धियों को भी दूर करते हैं।

जीरे और गुड़ से बना घोल महिलाओं के शरीर में हार्मोंस के असंतुलन को नियमित करता है। यह मासिक धर्म की अनियमितता को दूर करने में मददगार होता है और मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द से भी राहत दिलाता है। इसके मिश्रण में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह प्रभावित भाग में रक्त प्रवाह को बढ़ाकर शरीर के दर्द को कुछ हद तक कम करता है। यह प्राकृतिक पेय शरीर के तापमान को कम और नियमित करता है, जिससे बुखार, सिरदर्द और जलन आदि से राहत मिलती है। पीठ का दर्द हो या कमर का दर्द, गुड़ और जीरे का पानी पीने से आपको इन सभी समस्याओं से निजात मिलती है। ये मिश्रण शरीर के दर्द को भी कम करता है।

ऐसे बनाएं-

जीरे एवं गुड़ के पानी का घोल बनाने के लिए सबसे पहले किसी बर्तन में दो कप सादा पानी लें। इसके बाद इसमें एक चम्मच पिसा हुआ गुड़ और एक चम्मच जीरा मिलाएं और अच्छी तरह से उबाल लें। उबालने के पश्चात इस घोल के ठंडा होने पर आप इसे पी सकते हैं। हर रोज सुबह खाली पेट एक गिलास यह पानी पीने से आपके स्वास्थ्य को काफी आराम मिलेगा  है।

अशोका न्यूज़

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com