जब शनि की टेढ़ी नजर आप पर पड़ती है तो ये सब अशुभ होने लगता है

मई 12, 15 मई को शनि जयंती है। ज्योतिष शास्त्र में शनि को न्यायाधीश कहा गया है। जिस पर शनि की टेढ़ी नजर पड़ जाए, उसके बुरे दिन शुरू हो जाते हैं। आज हम आपको बता रहे हैं कि शनि की नजर को अशुभ क्यों माना जाता है...


इसलिए है शनि की नजर अशुभ


- सूर्य पुत्र शनि का विवाह चित्ररथ नामक गंधर्व की पुत्री से हुआ था, जो स्वभाव से बहुत ही उग्र थी।


- एक बार जब शनिदेव भगवान श्रीकृष्ण की आराधना कर रहे थे, तब उनकी पत्नी ऋतु स्नान के बाद मिलन की कामना से उनके पास पहुंची।


- शनि भगवान भक्ति में इतने लीन थे कि उन्हें इस बात का पता ही नहीं चला। जब शनिदेव का ध्यान भंग हुआ तब तक उनकी पत्नी का ऋतुकाल समाप्त हो चुका था।


- इससे क्रोधित होकर शनिदेव की पत्नी ने उन्हें श्राप दे दिया कि पत्नी होने पर भी आपने मुझे कभी प्रेम की दृष्टि से नहीं देखा। अब आप जिसे भी देखेंगे, उसका कुछ न कुछ बुरा हो जायेगा। इसी कारण शनि की दृष्टि में दोष माना गया है।


 किन कारणों के चलते किसी पर पड़ती है शनि की अशुभ नजर


- शनि की साढ़े साती या ढय्या का प्रभाव होने पर

- शनि की महादशा होने पर

- कुंडली में शनि अशुभ स्थान पर बैठा हो

 क्या होता है जब किसी पर पड़ती है शनि की टेढ़ी नजर


1. पैरों से संबंधित कोई बीमारी हो सकती है।

2. कोई ऐसा व्यक्ति मिलता है जो आपसे आपकी क्षमता से अधिक काम करवाता है और आपको उस काम का श्रेय भी नहीं मिलता।

3. लगातार पैसों का नुकसान होता रहता है।

4. आपके घर के पालतू काले जानवर (जैसे- काला कुत्ता या भैंस) की मृत्यु हो सकती है।

5. बनते काम बिगड़ सकते हैं। बहुत मेहनत करने के बाद भी उसका थोड़ा ही फल मिलता है।

6. कोई झूठा आरोप लग सकता है, कोर्ट-कचहरी के चक्कर लगाने पड़ सकते हैं।

7. नौकरीपेशा लोगों को ऑफिस में परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

 8. कोई महंगी चीज खो सकती है या चोरी हो सकती है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com