नशा करने जैसी ही है स्मार्टफोन की लत

अहमदाबाद , 27 मई (अशोका न्यूज़) स्मार्टफोन का हद से ज्यादा इस्तेमाल एक प्रकार से नशा करने जैसा ही है। यह कहना है वैज्ञानिकों का जिन्होंने पाया कि डिजिटल उपकरणों के प्रयोग की लत के कारण लोग अकेलापन , दुख और व्याकुलता महसूस करते हैं। स्मार्टफोन हम में बहुत से लोगों के जीवन का अभिन्न हिस्सा है जो हमें एक - दूसरे से जुड़े रहने और पल - पल की खबर रखने में मदद करता है। लेकिन इस सहूलियत का एक नुकसान यह भी है कि ज्यादातर लोगों को लगातार आने वाले संदेशों , वाइब्रेशन और डिवाइस से मिलने वाले अन्य अलर्ट की लत लग जाती है जिससे हम किसी भी ई - मेल , संदेश या तस्वीर को नजरंदाज नहीं कर पाते। एक नए अध्ययन में अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि स्मार्टफोन का अत्याधिक इस्तेमाल किसी भी अन्य प्रकार के मादक पदार्थ के सेवन के समान है। यह अध्ययन न्यूरो रेगुलेशन पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com