आयकर विभाग की जबरिया कार्यवाही , रसीद और दस्तावेजों के बावजूद अपने साथ ले गए आदर्श क्रेडिट का सोना

सिरोही। आयकर विभाग के अधिकारी आज गुरूवार को तमाम रसीद और दस्तावेजों के बावजूद आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी का 6 किलो सोना जबरन अपने साथ ले गए। यह सोना संस्था का है , जिसका मालिकाना हक़ सोसाइटी के सदस्यों का बनता है। इस बीच मीडिया के सवालों का जवाब देने से भी आयकर अधिकारियों ने मना कर दिया। आदर्श क्रेडिट के जोनल मैनेजर प्रवीण कंसारा ने बताया किआज अपराह्न आयकर अधिकारी आदर्श को-ऑपरेटिव बैंक की तीनबत्ती शाखा में पहुंचे तथा आदर्श क्रेडिट के लॉकर्स खुलवाए। बैंक में सोसाइटी के दो लॉकर्स संख्या 72 और 73 स्थित हैं आयकर अधिकारियों ने दोनों ही लॉकरों की तलाशी ली। लॉकर संख्या 73 में कुछ भी नहीं पाया गया , जब कि लॉकर संख्या 72 में सोसाइटी द्वारा खरीदा हुआ 6 किलो सोना मिला। जो सोसाइटी द्वारा गोल्ड में किया गया निवेश था। यह निवेश सदस्य जमाकर्ताओं के सुरक्षा हितों के लिए किया गया था। कंसारा ने बताया की कार्यवाही कर रहे डिप्टी कमिश्नर सुरेंद्र कुमार मीणा को सोने के खरीद की रसीदें , भुगतान का बैंक स्टेटमेंट तथा पेमेंट मोड का विवरण तुरंत प्रस्तुत किया गया किन्तु आयकर अधिकारियों की टीम सोसाइटी सदस्यों के हक़ का सोना जबरन अपने साथ ले गयी। इस बीच मीडिया ने सुरेंद्र कुमार मीणा से जब यह जानना चाहा कि पर्याप्त दस्तावेजों के बावजूद सोसाइटी सदस्यों के हक़ का सोना कैसे अपने साथ ले जा रहे हैं तो उन्होंने कुछ भी बताने से मना कर दिया। इस बीच जॉइंट डायरेक्टर एम् रघुबीर से भी जब मीडिया ने फोन पर संपर्क करना चाहा तो नो रिप्लाई होता रहा। आयकर विभाग की इस जबरिया कार्यवाही से आदर्श क्रेडिट के सदस्यों में रोष है और वे अपने सोने की वापसी की मांग कर रहे हैं।





Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com