रायुडु के लगातार अच्छे प्रदर्शन से मध्यक्रम में आएगी स्थिरता: कोहली

गुवाहाटी, 20 अक्टूबर (भाषा) भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने रविवार से वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रहे पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला से पहले यहां कहा कि अगर अंबाती रायुडु बल्लेबाजी क्रम में चौथे स्थान पर अच्छा खेल कर टीम में अपनी जगह पक्की कर लेते हैं तो अगले साल होने वाले विश्व कप से पहले मध्यक्रम की समस्या का हल हो जाएगा। कोहली ने कहा कि टीम के लिए चौथे स्थान के लिए किसी बल्लेबाज को ढूंढना चुनौती की तरह है और रायुडु ने हाल के दिनों में अच्छा प्रदर्शन किया है जिससे बल्लेबाजी क्रम लगभग स्थिर है। रविवार को होने वाले पहले एकदिवसीय से पहले कोहली ने कहा, ‘‘ हम लंबे समय से जिस क्रम के बल्लेबाज को ढूंढ रहे है वो है चौथे क्रम का बल्लेबाज है। हमने कई खिलाड़ियों और विकल्पों को अाजमाया लेकिन कोई उसे उस तरीके से नहीं भुना नहीं पाया जैसा हम चाहते थे।’’ भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘ रायुडु ने एशिया कप में अच्छी बल्लेबाजी की, विश्व कप से पहले उन्हें और अधिक मौके दिये जाने की जरूरत है ताकि उस क्रम की समस्या खत्म हो सके।’’ रायुडु ने आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग के लिए 43 के औसत से 602 रन बनाये जिस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 149.75 का था। इसके बाद इंग्लैंड दौरे के लिए एकदिवसीय के लिए उनका चयन हुआ था लेकिन यो यो टेस्ट में विफल होने के बाद टीम से बाहर कर दिया गया। पिछले महीने यूएई में हुए एशिया कप में भारत को विजेता बनाने में उन्होंने अहम भूमिका निभायी। कोहली की गैरमौजूदगी में उन्होंने तीसरे स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए 43.75 की औसत से 175 रन बनाये थे। कोहली ने कहा, ‘‘ मैंने भी उन्हें खेलता देखा और टीम को लगा वह मध्यक्रम में खेलने के लिए बने है। हमें लगा की हमारा मध्यक्रम अब लगभग स्थिर है।’’ विश्व कप से पहले भारतीय टीम को 18 एकदिवसीय मैच खेलने है जिसकी शुरूआत कल शुरू होने वाले पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला से शुरू होगी। कोहली ने कहा, ‘‘ इन 18 मैचों में हमें सही संयोजन बनाना होगा जिसके साथ विश्व कप के लिए जा सके।’’ वरिष्ठ खिलाड़ी महेन्द्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी की अालोचना हो रही है और जब कोहली से पूछा गया कि क्या वह पांचवें, छठे और सातवें स्थान पर बल्लेबाजी करने को तैयार है तो उन्होंने कहा, ‘‘वह कहीं भी खेलने के लिये तैयार है बस लोगों को बिना बात के बतंगड़ बनाने से बचना चाहिए।’’ कोहली ने इस मौके पर बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज खलील अहमद के बारे में कहा कि जहीर खान और आशीष नेहरा के संन्यास के बाद ऐसे गेंदबाज का टीम में आना अच्छा है। खलील रविवार को खेले जाने वाले मैच में टीम के 12वें खिलाड़ी होंगे। कोहली ने कहा, ‘‘ हम किसी भी पहलू को छोड़ना नहीं चाहते है। हमें लगा कि टीम में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज के होने से विविधता होगी। उसके पास गेंद को दोनों तरफ स्विंग करने और उछाल पाने की क्षमता है। उसके पास अच्छी गति भी है।’’ भाषा
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com