समाज के संवेदनशील प्रयास से समाप्त होगा बाल श्रम : रघुवर

कोडरमा 28 अक्टूबर (वार्ता) झारखंड को मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बाल श्रम उन्मूलन के लिए उनकी सरकार की ओर से किये जा रहे प्रयासों का उल्लेख करते हुये आज कहा कि इसके अलावा बाल मजदूरी को समाप्त करने के लिए समाज को भी संवेदनशील प्रयास करने होंगे। श्री दास ने यहां कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रन फाउंडेशन की ओर से आयोजित अभ्रक क्षेत्रों को बाल श्रम मुक्त बनाने की पहल कार्यक्रम को संबोधित करते हुये कहा, "बाल श्रम का उन्मूलन हो, यह हमेशा से मेरा लक्ष्य रहा है। जब श्रम मंत्री के रूप में मुझे कार्य करने का अवसर मिला तो मैंने खुद कई जगह छापेमारी कर बाल श्रमिकों को मुक्त कराया था। बाल श्रम उन्मूलन के लिए राज्य सरकार ने कानून बनाये हैं और इस दिशा में कार्य भी हो रहे हैं।" मुख्यमंत्री ने कहा कि बाल श्रम का सबसे बड़ा कारण गरीबी है। गरीबी समाप्त होने से बाल श्रम का भी उन्मूलन हो जाएगा। यही वजह है कि राज्य सरकार गरीबी दूर करने के लिए प्रयासरत है और काफी हद तक इसमें सफलता भी प्राप्त हो रही है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार गरीबी उन्मूलन का संकल्प लेकर आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि वह ऐसा राज्य चाहते हैं जहां कोई बच्चा अशिक्षित ना रहे। हर बच्चे को पोषाहार मिले। (वार्ता)
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com