महागठबंधन के मंच से शरद यादव ने राफेल की जगह उठाया बोफोर्स का मुद्दा

शनिवार को कोलकाता में ममता बनर्जी की अगुवाई में विपक्षी पार्टियों की संयुक्त भारत रैली हुई। इस रैली में 23 पार्टियों के नेताओं ने मोदी सरकार को जीएसटी, नोटेबंदी और राफेल डील समेत कई मुद्दों पर घेरा। इस दौरान जनता दल यूनाइटेड के पूर्व अध्यक्ष और भाजपा के साथ रहे शरद यादव ने कुछ ऐसा कह दिया कि भाजपा भी उनकी तारीफ किए बिना नहीं रह पाई। शरद यादव ने कहा, 'बोफोर्स की लूट, फौज का हथियार और फौज का जहाज यहां लाने का काम हुआ। भारत के लोग सीमा पर शहादत दे रहे हैं और डकैती डालने का काम बोफोर्स में हुआ है, डकैती हो गई है।' शरद के इतना कहते ही तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओ ब्रायन उनके पास आए और गलती की ओर इशारा किया। शरद यादव ने तुरंत जोर से कहा, 'रफेल, माफ कीजिएगा मैं गलती से बोफोर्स बोल गया।'  मंच पर बैठे नेताओं को ये समझ नहीं आ रहा था कि शरद यादव आखिर ये क्या कह रहे हैं। बाद में पीछे से तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने शरद यादव को बताया कि वो बार-बार गलत शब्द बोल रहे हैं। तब जा कर शरद यादव को अपनी गलती का एहसास हुआ।  बाद में जनता से मांफी मांगते हुए उन्होंने कहा बोफोर्स नहीं वो राफेल की बात कर रहे थे।
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com