WATCH: आदर्श क्रेडिट की संपत्तियों की खरीद के लिए 9,711 करोड़ का समझौता, जमाकर्ताओं का निवेश सुरक्षित

अहमदाबाद। आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी लि द्वारा फाइनेंस की गयी सम्पत्तियों के बेचान के लिए एक बड़ी डील साइन की गयी है। इस डील से सोसाइटी को 9,711 करोड़ रुपये प्राप्त होंगे। आर डी बी ग्रुप, कोलकाता के समूह निदेशक किरण माली तथा आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी लि. के प्रबंध निदेशक राहुल मोदी एवं ऋणी कंपनी समूह की तरफ से रोहित मोदी ने करार पर हस्ताक्षर किए। इस बारे में रविवार को संयुक्त पत्रकार वार्ता आयोजित कर इस आशय की जानकारी दी गई। पत्रकार वार्ता में ऋणी कंपनी समूह की ओर से रोहित मोदी ने कहा कि समझौते के बाद सोसाइटी के जमाकर्ताओं के हित सुरक्षित हो गए है। उन्होंने कहा कि जिन कंपनियों में आदर्श क्रेडिट ने निवेश किया एवं ऋण दिया था, उन सभी कंपनियों के संचालक मंडल ने आदर्श क्रेडिट को सम्पत्तियों के बेचान का अधिकार सौंप दिया, एवं इस विक्रय करार पर मुझे हस्ताक्षर करने के लिए अधिकृत किया और यह प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। आर डी बी ग्रुप कोलकाता के समूह निदेशक किरण माली ने बताया कि कंपनी परियोजना विस्तार पर कार्य कर रही है। इसी के अन्तर्गत यह डील साइन की गयी है उन्होंने बताया कि आर डी बी ग्रुप कोलकाता देश की प्रमुख रियल एस्टेट कंपनियों में से एक है जो ट्रंप टॉवर कोलकाता के साथ-साथ भारत की बड़ी और प्रमुख रियल एस्टेट की निर्माण परियोजनाओं से जुड़ी हुई है। मुंबई सहित देशभर में 32 अलग-अलग निर्माण परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है। उन्होंने जानकारी दी कि वे कंपनी के निर्माण परियोजनाओं का विस्तार कर रहे है। इसी के तहत उन्होंने उदयपुर, नोएडा, जयपुर, देहरादून एवं दिल्ली आदि स्थानों पर मौजूद ऋणी कंपनियों के भूमि सहित निर्माण परियोजनाओं को काफी फायदेमंद पाया और इसमें निवेश करना तय किया गया। माली ने कहा कि इन संपत्तियों को खरीदकर आर डी बी ग्रुप अपने व्यवसाय को और बड़ा बनाने में सक्षम सिद्ध होगी। मोदी ने जानकारी दी कि सम्पत्तियों के विक्रय से सोसाइटी को 9,711 करोड़ रुपये प्राप्त होंगे। वर्तमान में इन कंपनियों के ऊपर सोसाइटी की कुल देनदारी लगभग आठ हज़ार करोड़ रुपये हैं। इस तरह जमाकर्ताओं का निवेश पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने बताया कि विधिक प्रक्रिया के अंतर्गत ऋणी कंपनियां  न्यायालय से संपत्ति बेचान की अनुमति देने का अनुरोध करेंगी ताकि जमाकर्ताओं का बकाया भुगतान शीघ्रातिशीघ्र किया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि इस डील से देश भर में आदर्श क्रेडिट से जुड़े करीब चार लाख लोगों का रोज़गार बचेगा और 20 लाख सदस्यों के हित सुरक्षित हो जाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि हम इन सभी की रोजी रोटी के लिए, अपने सदस्यों के हित के लिए संस्था को बचाएंगे। इसे फिर से नया व्यापक रूप देंगे और सोसाइटी को नयी ऊंचाइयों पर ले जायेंगे। उन्होंने आदर्श की कार्य संस्कृति का हवाला देते हुए कहा कि जमाकर्ताओं और सदस्यों के हितों की सुरक्षा करना हमारा प्राथमिक दायित्व है और हम इनके हितों पर आंच नहीं आने देंगे। मोदी ने सभी सदस्य जमाकर्ताओं एवं एडवाइजरों से धैर्य बनाये रखने और प्रबंधन को सहयोग प्रदान करने के लिए सभी का आभार व्यक्त किया।
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com