पाक के पूर्व NSA बोले, ‘देश में आतंकी संगठनों के होने की न पुष्टि कर सकता हूं, न उससे इनकार’

पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए फिदायीन हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ा हुआ है. पाकिस्तान पर आंतकवाद को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए भारत ने पाकिस्तान को वैश्विक मंच पर अलग-थलग करने की कोशिशें तेज कर दी हैं. इस बीच पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार महमूद अली दुर्रानी ने कहा है कि वह न तो पाकिस्तान में आतंकी संगठनों के होने की पुष्टि कर सकते हैं और न ही इस बात से इनकार कर सकते हैं.
साल 2008 में मुंबई हमलों के दौरान पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) रहे दुर्रानी ने कहा कि पाकिस्तान की सरकार ने अपनी धरती से आतंकी संगठनों को खदेड़ने की पूरी कोशिश की.
दुर्रानी ने कहा, 'मैं पाकिस्तान में आतंकी संगठनों के होने की न पुष्टि कर सकता हूं और न ही इससे इनकार कर सकता हूं. हालांकि, मैं यह जरूर कह सकता हूं कि सेना, सरकार और अन्य कानूनी एजेंसियां सालों से आतंकी संगठनों की कमर तोड़ने की पूरी कोशिश कर रही हैं. और इसमें काफी हद तक उन्हें सफलता भी मिली है.'
साल 2017 में दुर्रानी ने कथित तौर पर कहा था कि पाकिस्तान से संचालित होने वाले आतंकी संगठन ने मुंबई हमले को अंजाम दिया था. हालांकि, उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान सरकार और आईएसआई की इसमें कोई भूमिका नहीं थी.
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com