पूर्व राष्ट्रपति ने खोली पाकिस्तान की पोल, कहा ISI-जैश के बीच गहरे रिश्ते, भारत पर कराए कई आतंकी हमले

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने अपने ही देश की पोल खोल दी है. बुधवार को एक पाकिस्तानी पत्रकार से बातचीत करते हुए परवेज मुशर्रफ ने खुलासा किया कि पाकिस्तान ने भारत पर हमले के लिए जैश-ए-मोहम्मद का कई बार इस्तेमाल किया है. मुशर्रफ ने कहा, 'मेरे कार्यकाल में पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ने भारत पर हमलों को अंजाम देने के लिए कई दफा आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की मदद ली.'
बुधवार को परेवज मुशर्रफ ने पाकिस्तानी पत्रकार नदीम मलिक से बात की. जिसमें मुशर्रफ ने जैश-ए-मोहम्मद पर कार्रवाई का स्वागत किया. मुशर्रफ ने कहा कि जैश ने 2003 में उन्हें भी मारने की कोशिश की. मुशर्रफ के मुताबिक दो बार उनकी हत्या की कोशिश हुई.
मुशर्रफ से जब पूछा गया कि उन्होंने अपने कार्यकाल में जैश पर कार्रवाई क्यों नहीं कि तो पूर्व राष्ट्रपति ने जवाब दिया कि उस वक्त हालात अलग थे. उस दौरान भारत और पाकिस्तान एक दूसरे पर बमबारी कर रहे थे.
आपको बता दें जैश-ए-मोहम्मद ने 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला कराया था, जिसमें 40 जवान शहीद हुए थे. इस हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया था.
आपको बता दें आज (गुरुवार) आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर से जुड़ा एक नया ऑडियो जारी किया गया है. इस ऑडियो में आतंकी मसूद अजहर की लिखी हुई स्‍टेटमेंट को उसके प्रवक्‍ता सैफुल्‍लाह ने पढ़ा है. इस ऑडियो में आतंकी मसूद अजहर की ओर से स्‍टेटमेंट जारी किया गया है कि 'मैं अभी जिंदा हूं. पूरी दुनिया में मेरे मरने की खबर चल रही है. मालूम नहीं जब ये ऑडियो आप तक पहुंचेगा पता नहीं मैं उस वक्‍त तक जिंदा रहूंगा या नहीं.'
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com