चीन में लंच के दौरान दफ्तरों में होता है ये काम, भारत में किया तो खो देंगे नौकरी

यूं तो चीनियों को कर्मठ और मेहनती माना जाता है. चीन का विकास और समृद्धि भी इस बात की गवाही देते हैं. लेकिन शायद कम ही लोग जानते होंगे कि यहां के लोग आराम के मामले में भी पीछे नहीं है. यहां लोग दोपहर में लंबे हो जाते हैं.
ग्लोबल टाइम्स के लिए लिखे अपने एक लेख में चीनी महिला लॉरेन लू ने लिखा था कि चीन में आप लोगों को बीजिंग की भीड़-भाड़ वाली मेट्रो में भी सोते हुए देख सकते हैं. कुछ लोग जो सो रहे होते हैं, उनके सिर लगातार हिल रहे होते हैं. हालांकि ज्यादातर लोग गहरी नींद के बाद भी अपने सिर को दूसरे के कंधे पर जाने से बचा भी रहे होते हैं. जो खड़े भी होते हैं वे भी एक हाथ से मेट्रो में बार पकड़े हुए अपने हाथ पर अपने सिर को आराम दे रहे होते हैं.
लॉरेन लू ने इस बारे में अपने कई एशिया से आने वाले दोस्तों से बात की थी और उनका मानना था कि केवल चीन में ही नहीं बल्कि पूरे एशिया में कई देशों में दोपहर में सोने की संस्कृति है.
जापान और दक्षिण कोरिया के अलावा भारत के भी कुछ हिस्सों (मुख्यत: पश्चिम बंगाल और गुजरात में) लोग दोपहर के खाने के बाद अक्सर सोते हैं.
उनका मानना है कि दोपहर में सोना पूरी तरह से एक सांस्कृतिक बात है. ऐसे में एशियाई मूल के लोग अगर यूरोप में दोपहर में सोना चाहें तो उन्हें इसकी स्वीकार्यता मिलनी चाहिए. ऐसे में तो जरूर, जब लोग अपने दैनिक जीवन में सोने की कमी महसूसस करते हों.



विशेषज्ञ यह भी मानते हैं कि दोपहर में थोड़े वक्त के लिए सोने से आप अच्छे से अपनी ऊर्जा का प्रयोग कर पाते हैं और स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है.
जर्मन फोटोग्राफर बर्न्ड हगेमन को स्लीपिंग चाइनीज नाम का एक प्रोजेक्ट दिया गया था. उन्हें ऐसे चीनी लोगों की फोटो खींचनी थीं, जो अजीबो-गरीब जगहों और परिस्थितियों में सो रहे थे. जैसे पार्क की बेंच, जिम की मशीनों पर और सड़क के किनारे के पत्थरों पर.
चीन में काम कर चुकी मिथिला फड़के लिखती हैं कि दोपहर में चीनी दफ्तरों में लोग लाइटें धीमी कर देते हैं और अपनी डेस्क पर ही सो जाते हैं.
वे कहती हैं कि चीनी कर्मचारी काम करते हुए अपनी डेस्क पर ही खाते नहीं दिखते, वे अपने लंचटाइम को लेकर बहुत ही सीरियस रहते हैं.
चीन में अमूमन लंच 2 घंटे का होता है. हालांकि स्पेन, फ्रांस जैसे कुछ देशों में लंच टाइम इससे भी लंबा होता है. लेकिन इस वक्त में खाने के बाद सोने का टाइम भी जुड़ा होता है.
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com