नागरिकता विवाद में फंसा राहुल गांधी का नामांकन, आज हो सकता है फैसला

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दो सीटों से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं और इन दोनों ही जगह उनके नामांकन पर विवाद हो गया है. उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट पर राहुल गांधी के नामांकन पर आपत्ति होने के बाद स्क्रूटनी टाल दी गई थी, जो आज फिर से की जाएगी. वहीं, केरल की वायनाड सीट पर भी राहुल के पास दो पासपोर्ट होने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की गई है. इन दोनों घटनाओं ने राहुल के नामांकन पर बड़ा विवाद पैदा कर दिया है. अमेठी सीट पर 20 अप्रैल को राहुल गांधी के नामांकन की स्क्रूटनी होनी थी. इस दौरान रिटर्निंग ऑफिस में स्क्रूटनी की प्रक्रिया शुरू होते ही राहुल गांधी का नाम पुकारा गया जिसके बाद चार लोगों ने उनके नामांकन पर आपत्ति दर्ज कराई. इनमें निर्दलीय प्रत्याशी ध्रुव लाल ने ब्रिटेन में रजिस्टर्ड कंपनी के दस्तावेजों को दिखाते हुए दावा किया कि इनमें राहुल गांधी को ब्रिटिश नागरिक बताया गया है. ध्रुव लाल के वकील रवि प्रकाश ने दावा किया है कि ब्रिटिश कंपनी पिछले पांच साल से चल रही है और उसने मुनाफा भी कमाया है, लेकिन हलफनामे में ऐसा कुछ नहीं बताया गया है. इन आरोपों पर बीजेपी ने भी राहुल गांधी से सवाल किया है और नागरिकता पर स्थिति स्पष्ट करने की मांग की है. वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तो एक कदम आगे बढ़ते हुए राहुल गांधी के नाम पर ही सवाल उठा दिए हैं. योगी ने रविवार को एक जनसभा में दावा किया है कि देश राहुल गांधी के नाम पर बेवकूफ बनता था, लेकिन वास्तविक नाम राहुल गांधी है ही नहीं, उसका नाम तो राउल विंसी है. वायनाड में की गई ये शिकायत अमेठी के बाद वायनाड में राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत की गई है. वायनाड लोकसभा सीट से एनडीए के प्रत्याशी टी. वेल्लाप्पल्ली ने आरोप लगाया, 'यह समझा जा रहा है कि राहुल गांधी के पास किसी दूसरे देश का पासपोर्ट भी है. लेकिन उन्होंने अपने हलफनामे में इसका जिक्र नहीं किया है. इसलिए राहुल गांधी के नामांकन की स्वीकृति की समीक्षा की जाए'. इस तरह राहुल गांधी के नामांकन पर दोहरा वार हुआ है. हालांकि, अमेठी में आज उनके दस्तावेजों की स्क्रूटनी होनी है. ऐसे में देखना होगा कि क्या ये आरोप खारिज होते हैं या फिर राहुल की मुश्किलें बढ़ाते हैं.
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com